मौसम का मिजाज बदलने से किसान चिंतित

बालाघाट/जराहमोहगांव- जराहमोहगांव के उन्नत कृषक एवं पूर्व उपसरपंच गूलेंद्र बघेल ने अपने घर के समीप खलियान बना कर छोटा ट्रैक्टर से गहनी कर रहे हैं। ताकि अपनी उपज को धान खरीदी केंद्र में ले जा सके किंतु कुछ दिनों से मौसम मिजाज बदल गया है। 14 से 15 दिसंबर को हुई हल्की बारिश से किसान चिंतित है और सर्द हवाएं से सिहरन बढ़ गई है।मौसम का मिजाज बदलने से गहानी लेट हो रही है। इधर धान खरीदी केंद्र से संबंधित किसान को मैसेज भी नहीं आ रहे हैं और धान खरीदी के लिए कुछ ही दिन बचे हैं।

ऐसे में ग्राम जराहमोहगांव के किसान चिंतित है। इधर ग्राम के उन्नत किसान मिश्रीलाल मात्रे जोकि अपने खेत में प्रतिवर्ष पद्धति से धान की रोपाई करते हैं। जिससे अच्छी फसल की पैदावार करते हैं। इस वर्ष भी धान की रोपाई समय पर की गई है और लगभग गहनी भी हो चुकी है। कुछ ही खेत की गहनी बची है। मौसम के मिजाज बदलने से गहनी रोक दी गई और धन खरीदी केंद्र के मैसेज का इंतजार करते करते हैं। थक गए हैं किंतु मैसेज नहीं आया बची समय का उपयोग करते हुए अपने ही खेत में प्याज की खेती करने के लिए क्यूरिया बना रहे हैं किसान मिश्रीलाल मातरे एवं मजदूर यशवंत पंचेश्वर निवासी जराहमोहगांव ने बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *